Bhojpuri ansu and yade shayari

बुझि ली की बुद्धि कम रहे हमार, एहि से
ना बुझि पवनी हम एह माडर्न जमाना के,
माई के गोड छु के गोड लागे के अलावा,
कवनो अउरी तरिका होखे त बता देs केहु....




केहु के प्यार मे पियल ज़हरियो नीक़ लागेला,
अंज़ोरिया त अंज़ोरिये ह अन्हरिओ नीक लागेला !!...




केतना इत्मिनान से उ ठुकरा गैलन हमके
आंसू बनाई के आंख से टपकाई गैलन हमके
कैसन ई रहबरी रहल कैसन फरेब रहल
राह देखाई के उहा से भटकाई गईलन हमके..



दर्द बा केतना बताई कइसे
अब तू ही बता द भुलाई कइसे...


दिल रोअता तहरा बिना, ई बताईं कइसे
आपन अर्थी खुद ढोव तानी, ई बताईं कइसे
तू त रह रहल बाडू ससुराल में खुशी-खुशी,
हम घुट-घुट के पी रहल बानी, ई बताईं कइसे....



मनवा उदास भैले नींद नही आवय,
सूनसान जियरा का कुछ नाही भावय,
काहे हमके तू अपने से दूर ठेलू,
काहे हमसे प्रितिया कयखेल खेलू...



का कही कुच्छ कहाते नईखे,
अकेले ज़िंदगी अब काटाते नईखे,
एक-एक पल कैसे गुज़रता उनका बिना,
ई-दुनिया वालन के बुझाते नईखे !...

हमरा के रोवावे खाति उ कवनो कसर बाकी ना रखलस,
हमार हंसी देखि के का जाने काहे ओकर लोर गिर परल ...



हमरा दिल मे तु रहलु बिसवास बन के
दे गैलू धोखा आपन खाश बन के
इ दुनिया मे जिये से मन भर गैल बा
तबो जियत बानि जिन्दा लाश बन के....




बाना दिहलू जईसे हमके बेसहारा
नबनईह केहू के हमरा जईसन अवारा
चाँद जईसन सुरतिया से अब केके आबाद करबू
हमरा बाद गोरी केकरा के बर्बाद करबू...


आज तू पास नईखु तबो तहार साथ बा
अकेले बानी, लेकिन याद दिल के पास बा
प्यार जिनगी बना देवेले, हमहुँ सुनले रहनी,
लेकिन अब त खाली गम के सैलाब बा...



परवाना रहल कबो अब दीवाना हो गईल
अफसाना हमार उनका खातिर तराना हो गईल
कबो हमहु जात रहनी उनुका घर के जरी से ..
अब त हमार परछाई भी उनुका खातिर बेगाना हो गईल...



अलोता मे मुह तोप के रोवे सीख गईनी
बिना बोवले बहुत कुछ काटे सीख गईनी
कुछ मालुम ना रहे हमरा जब देखनी एह संसार के
लेकिन कुछ जाना के चलते कुछ जाना के धोवे सीख गईनी...




खुशी अउर गम त संगे संगे मिलल
तबो अपना धुन में चलल जात रहनी
सुर में गम आ खुशी के गावत रहनी
रो रो के उनकर याद मिटावत रहनी..



जियत जिनगी ना भुला पाईब तोहरा के
गली में घुमत रहेब तोहार नाम ले-लेके
एही तरह कहीं अगर हम मर गइनी
त हमार रुह भी भटकत रही तहरे पीछे...



सांस टूट रहल बा, लेकिन आस अभी बाकी बा
मन तडफडा रहल बा , हमार प्यास अभी बाकी बा
तु हरदम बाडु हमरा संगे, ई एहसास अभी बाकी बा
इंतेजार रही मुवे घरी ले काहे की सांस अभी बाकी बा..




जाने का भईल उ हमके भुला देहलस
प्यार में धोखा का हटे बता देहलस
साथ निभावे के वादा कई के
दोसरा के हाथ पकड़ के ऊ ई बात जता देहलस..



खामोशी से हमके ऊ फुसला देली
हमार रात के नीद और दिन के चैन उडा देली
हम ता बेचैन हो के बस रही जानी
हमारा दिल में आग उ लगा देली |...



जब जब देखी नी उनका के ता उ नजर झुका ले ली
जुबान त खामोश रहेला, लेकिन अँखियन से जता देली...
------
अब अगिला लाइन :-
जाने कवन बात बा कि ऊ मुस्कुरा देली..




काबो ई मत पूछीह कि हाल कईसन बा,
पहीले ज़ईसन कि अब ना ओइसन बा.?
ना जाने कईसे जी लेनी,
बहे ला जे लोर तहरा याद मे,
त ताड़ी समझ के पी लेनी...


दिया जरईला से अगर अन्हार दुर होइत
त चान्द सुरज के जरुरत काहे
प्यार मोहब्बत से कट जाईत् जिनगी
फेरु दोस्ती के जरुरत काहे..



आकाश के चमकत तारा देखि तोहार नयन क याद आ गईल
चिडियों के चहकत देखि तोहार हंसी खिलखिला गईल
देखि चन्द्रमा सी मूरत चेहरा तोहार छा गईल
तोहरे याद के वियोग में नैनन में नीर भर गईल
ह्रदय दुख से बा बोझल अरमान सब जल गईल
कहें छोड़ चली गईलू सारी नेहियाँ विसरा के
छोड़ देहलू इहंवा आपन याद इन्तजार के...




< जिनगी एगो सच्चाई ह जिये वाला खातिर ,
जिनगी एगो सीख ह पछताये वाला खातिर !
जिनगी त हमेशा काम करे ला आईना के ,
जिनगी एगो दोस्त मित्र ह जिये वाला खातिर !!

 

Latest Bhojpuri Lyrics with Video in Hindi Browse and Download links info. © 2015 - Designed by Raj, Plugins By Desi katta